सुबह होते ही शराब की दुकानों पर टूट पड़े लोग, शारीरिक दूरी की उड़ी धज्जियां

लॉकडाउन के तीसरे चरण की शुरुआत होते ही देश भर में शराब की दुकानें खोल दी गई हैं। केंद्र सरकार के नियमों के मुताबिक सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक दुकानें खोली जा सकती हैं।



नई दिल्ली । लॉकडाउन के तीसरे चरण में शराब की दुकानें खुलीं तो लोग इस कदर टूट पड़े जिससे कोरोना वायरस के फैलने की आशंका पैदा हो गई है।  इस दौरान देश के कई राज्यों में शराब की दुकानों पर कई किलोमीटर लंबी लाइनें देखने को मिल रही हैं। लोग सुबह से ही शराब की दुकानों के बाहर इकट्ठा होना शुरू गए। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने साफ निर्देश दिए हैं कि इस दौरान शारीरिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का पूरा ख्याल रखा जाए। हालांकि इसका ज्यादा असर देखने को नहीं मिला और लोगों ने सरकारी आदेश की जमकर धज्जियां उड़ाई। इस दौरान कई राज्यों में पुलिस को लाठियां भी चलानी पड़ी।


कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच जिस तरह केंद्र सरकार ने देश में लॉकडाउन लगाया, उससे महामारी के प्रसार को वक्त रहते कम करने में काफी मदद मिली। सरकार के इस कदम की दुनिया भर में सराहना की गई। हालांकि,  देश भर में जिस तरह शराब की दुकानों पर शारीरिक दूरी के दिशा-निर्देशों का उलंघन किया जा रहा है, उससे एक बार फिर चिंता की लकीरे खींच गई हैं। 


दिल्‍ली में पुलिस ने भांजी लाठियां


देश के अन्य राज्यों की तरह दिल्ली में भी सोमवार से शराब की दुकानें खुल तो गई हैं, लेकिन जगह-जगह अफरातफरी का माहौल भी है। लोग शारीरिक दूरी के नियमों का भी पालन नहीं कर रहे हैं। यहां तक कई जगहों पर पुलिस ने लाठियां तक भांजी हैं। इस बीच बढ़ती भीड़ के बाद दिल्ली पुलिस ने कई शराब की दुकानों को बंद भी करा दिया।


दुकान खोलने से पहले पूजा


कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने की खातिर 24 मार्च से लम्बे लॉकडाउन के बाद सोमवार से शर्तों के साथ शराब की दुकानें खोलने का बड़ा असर देखने को मिला। करीब 40 दिन बाद खुलने वाली दुकानों पर लोग काफी पहले ही पहुंच गए। राजधानी लखनऊ के साथ प्रदेश के अन्य शहरों में भी शराब की दुकानें खुलने से पहले ही उनके बाहर काफी लम्बी लाइनें लग गई। इस दौरान कई जगह पर तो फिजिकल डिस्टेंसिंग की धज्जियां भी उड़ रही हैं। प्रयागराज में लॉकडाउन की वजह से इतने दिनों से बंद शराब की दुकान के खोलने से पहले लोगों ने पूजा कर नारियल चढ़ाया।


निर्देशों का पालन कराने में छूटा पसीना


सरकार की नई गाइडलाइन के अनुसार रायपुर के मोवा क्षेत्र में शराब की दुकान खुली। यहां दुकान के बाहर शराब खरीदने के लिए लोगों की लंबी कतरें देखने को मिलीं। यहां भी पुलिस को उनके बीच शारीरिक दूरी बनाए रखने में काफी मुश्किल का सामना करना पड़ा।