नशा करने से मना करने पर की थी हत्‍या, पुलिस ने किया खुलासा


लखनऊ । गोमतीनगर के कौशलपुरी में हुई रोहित राजपूत उर्फ अजगर हत्‍याकांड का पुलिस ने राजफाश किया है। एसीपी संतोष कुमार सिंह के मुताबिक आरोपित अमित उर्फ चरसी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित ने नशा करने से मना करने पर रोहित की हत्‍या की थी।


गौरतलब है कि गोमतीनगर विस्तार स्थित कौशलपुरी में शारदा टिम्बर के पास रोहित राजपूत उर्फ अजगर की पिट पीटकर हत्या कर दी गई थी। छानबीन में पता चला कि रोहित के सिर पर डंडे से हमला किया गया था। पड़ताल के दौरान पुलिस ने रोहित के गांव के ही गड़रियन पुरवा निवासी अमित को गिरफ़तार कर लिया। अमित ने पूछताछ में बताया कि वह रोहित से गांजा पीने के लिए बोल रहा था, लेकिन उसने मना कर दिया। रोहित शराब के नशे में था और अमित ने भी शराब व गांजा पी रखी थी। रोहित के गांजा पीने से इन्‍कार करने पर अमित का उससे विवाद हो गया। इसके बाद अमित ने डंडे से रोहित के सिर पर कई वार कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने आरोपित की बाइक और हत्‍या में इस्‍तेमाल डंडा बरामद कर लिया है। पुलिस आयुक्‍त सुजीत पांडेय ने वारदात का राजफाश करने वाली टीम को पांच हजार रुपये का पुरस्‍कार देने की घोषणा की है। 


हत्या का आरोप लगाकर दर्ज कराया मामला 


 पारा के सदरौना की काशीराम कालोनी में बीते 9 मई को महिला ने सुसाइड कर लिया था। घटना को लेकर महिला के परिजनों ने ससुरालीजनों पर दहेज के लिए प्रताड़ित कर हत्या का आरोप लगाकर मामला दर्ज कराया है। ठाकुरगंज गढ़ी पीर खां निवासी विनोद कश्यप ने आरोप लगाया कि बीते 27 अप्रैल 2018 को बहन शशि का विवाह पारा सदरौना काशीराम कॉलोनी निवासी सचिन के साथ किया था। शादी के बाद से सचिन व उसकी माँ  लक्ष्मी बहन नैना उसका पति चिंटू उर्फ आशीष दहेज के लिए अक्सर प्रताड़ित कर मारते पीटते थे। बीते 9 मई को शशि की हत्या कर पंखे से लटका दिया। घटना की जानकारी पड़ोसियों ने दी। घटना को लेकर विनोद ने सचिन के उसकी माँ लक्ष्मी बहन नैना और चिंटू उर्फ आशीष के खिलाफ दहेज हत्या का आरोप लगाकर मामला दर्ज कराया है।