युवक बोला- बीमार पत्नी को डॉक्टर के पास लेकर जा रहा हूं, जब पुलिस ने हटाया घूंघट तो


मिर्जापुर। कोरोना वायरस से बचाव के लिए लागू लाकडाउन का उल्लघंन करने वाले अपनी सेहत की फिक्र करने के बजाय सड़कों पर आवारागर्दी करने के लिये पुलिस की नजरों में धूल झोंकने की नयी नयी तरकीब आजमा रहे हैं। ऐसा ही एक वाक्या शनिवार रात जिले के कछवा क्षेत्र में देखने को मिला जब एक बाइक सवार अपने दोस्त को साड़ी पहनाकर बाजार ले जा रहा था। इस दौरान पुलिस ने उसे पकड़ लिया।


पुलिस के पूछने पर युवक ने पुलिसकर्मियों से गिड़गिड़ाते हुये कहा कि वह अपनी बीमार पत्नी को डॉक्टर के पास ले जा रहा है। शक होने पर पुलिस ने महिला की घूंघट उठाने को कहा तो दोनों हड़बड़ा गए। कछवा थाना के प्रभारी मनोज सिंह ने बताया कि युवक की भावभंगिमा देखकर उनका शक यकीन में बदल गया और सख्ती करने पर गर्लफ्रेंड बनकर बाइक पर बैठे युवक ने अपना घूंघट हटाया तो यह नजारा देखकर वहां मौजूद राहगीरों के अलावा पुलिस कर्मी की भी हंसी छूट गयी। 


उन्होंने बताया कि पुलिस को चकमा देने वाले बाइक सवारों को फिलहाल चेतावनी देकर छोड़ दिया गया है हालांकि उनके वाहन का चालान काट दिया गया है। उन्होंने कहा कि एक ओर जहां लॉकडाउन में लोग अपने घरों में है। वहीं कुछ लोग न अपनी जान की परवाह करते हैं न ही दूसरे की। वे तरह तरह की बहानेबाजी से बाज नहीं आते हैं।