ये कर्म करने से आती है स्थाई लक्ष्मी, महाभारत की विदुर नीति में बताया गया


महाभारत में सुखी जीवन के कई सूत्र बताए गए हैं। दरअसल विदुर ने महाभारत के दौरान धृतराष्ट्र से जो संवाद किए वो विदुर नीति से प्रसिद्ध हुए। इस श्लोक में विदुर ने स्थाई लक्ष्मी पाने के बारे में बताया गया है। कहा जाता है कि माता लक्ष्मी चंचल होती हैं। विदुर नीति में बताया गया है कि किस तरह हम माता लक्ष्मी को अपने पास रख सकते हैं। 


श्रीर्मङ्गलात् प्रभवति प्रागल्भात् सम्प्रवर्धते।


दाक्ष्यात्तु कुरुते मूलं संयमात् प्रतितिष्ठत्ति।।


विदुर नीति में बताया गया है कि जो लोग सही तरीके से पैसे नहीं कमाते उनके पास लक्ष्मी जी नहीं रहती हैं। श्लोक में बताया गया है कि जो इंसान अच्छे कर्म करता है उसे स्थाई लक्ष्मी की प्राप्ति होती है। उदाहरण के लिए महाभारत के दुर्योधन ने भी गलत तरीके से पांडवों से धन छीना, जिसकी वजह से उन्हें अंत में लक्ष्मी विहीन होना पड़ा। इसलिए अच्छी सोच से कमाया हुआ धन ही आपको काम आता है। सुखी रहने के लिए बुद्धिमानी से योजनाएं बनानी चाहिए कि धन कहां खर्च करना है और कहां नहीं, इसका ध्यान रखना चाहिए। कभी भी लाभ के लिए किसी ऐसे काम में धन नहीं खर् करना चाहिए जिससे किसी का नुकसान, इससे लक्ष्मी कभी भी आपके साथ नहीं रहती हैं।