शादी के बाद व्‍यवसाय में सफल होते हैं ऐसे लोग


माना जाता है कि व्‍यक्‍ति के हाथ की रेखाएं उसके भविष्‍य का इशारा करती हैं। समय-समय पर इन रेखाओं में बदलाव भी आता रहता है। हाथों में बनने वाली ये आकृतियां व्‍यक्‍ति के बारे में बहुत कुछ संदेश देती हैं। हाथों की रेखाओ में सर्वााधिक चर्चा की जाने वाली आकृति है एम। हाथ में यह आसानी से देखी और पढ़ी जा सकती है। भाग्य रेखा, जीवन रेखा और मस्तिष्‍क रेखाएं मिलकर हथेली में ‘एम’ की आकृति का निर्माण करती हैं। हाथ में एम की आकृति को बहुत ही अच्‍छा माना जाता है। यदि किसी व्‍यक्‍ति के हाथ में इस तरह की आकृति है तो वह जीवन में अत्‍यधिक धन कमाता है। 
ऐसी रेखा का एक अर्थ यह भी है कि ऐसा व्‍यक्‍ति के जीवन में धन का प्रवाह विवाह के बाद तेजी से होगा। ऐसे लोग विवाह के बाद नौकरी या व्यवसाय में तेजी से उन्नति करते हैं। पं.शिवकुमार शर्मा के अनुसार कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिनकी हथेली में उनकी भाग्य रेखा धन रेखा का काम करती है। जिन लोगों के हाथों में मणिबंध से ‌निकलकर सीधी रेखा शनि पर्वत पर पहुंचे तो उन्हें धन का लाभ भी अचानक ही मिेलता है। ऐसे व्यक्ति अपने पूर्वजन्मों के अच्छे कर्मों से धनवान बनते हैं। इन लोगों की सफलता में मेहनत से ज्‍यादा भाग्‍य का साथ होता है। 
इसी तरह यदि हाथ में जीवन रेखा, भाग्य रेखा, मस्तिष्क रेखा या फिर हृदय रेखा, भाग्य रेखा और मस्तिष्क रेखा मिलकर हाथ में कोई त्रिकोण का चिन्ह बनाती है और हथेली में धन रेखा है तो ऐसे व्‍यक्‍ति के पास धन कमाने के कई माध्यम होते हैं। अंगूठे से पास से निकलकर कोई रेखा यदि तर्जनी यानी गुरु पर्वत तक पहुंचे तो ऐसे व्‍यक्‍ति बुद्धिमान और चतुर व्‍यक्‍ति होंगे। ये लोग अपनी प्रतिभा से धन कमाते हैं।
(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)