फांसी पर लटका मिला महिला का शव, पति पर दहेज और हत्या की एफआइआर

लखनऊ में लॉकडाउन में महिला ने संदिग्ध परिस्थितियों में लगाई फांसी पति ने की थी दो शादियां। 



लखनऊ । राजाजीपुरम एफ ब्लॉक निवासी शबीना उर्फ सावित्री (20) का शव फांसी पर लटका मिला। मायके वालों ने तालकटोरा थाने में दहेज हत्या की एफआइआर कराई है। इंस्पेक्टर तालकटोरा के मुताबिक आरोपित पति आदित्य को गिरफ्तार कर लिया गया है, अन्य ससुरालीजनों से पूछताछ की जा रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।


1090 पर की थी शिकायत


राजाजीपुरम एफ ब्लॉक निवासी राम बिहारी मिश्रा का बेटा आदित्य मिश्रा आलमबाग के एजी इंटरनेशनल रीयल स्टेट कंपनी में कार्यरत है। आदित्य ने दो शादियां की थीं। पहली पत्नी शिवानी व तीन वर्षीय बेटा प्रणव के साथ राजाजीपुरम में रहता था। दूसरी पत्नी कृष्णानगर कनौसी निवासी शबीना उर्फ सावित्री से डेढ़ वर्ष पहले आलमबाग मंदिर में शादी की थी। वह दुबग्गा आम्रपाली योजना में किराए के मकान में छह महीने के बेटे अयान के साथ रहती थी। मंगलवार दोपहर शबीना ने 1090 महिला हेल्प लाइन पर पति से अपने हक मांगने की शिकायत की थी। जिस पर पुलिस ने आदित्य व उसके परिवारीजनों को समझा बुझाकर शबीना को घर पर रखवा दिया था। उधर आदित्य का कहना है कि मंगलवार की रात शबीना की तबियत खराब होने पर रानी लक्ष्मी बाई अस्पताल ले गया था। जहां डॉक्टरों ने दवा देकर वापस भेज दिया था। बुधवार सुबह अयान कमरे में रो रहा था। कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा खटखटाने पर नहीं खुला। जिस पर दरवाजा तोड़ दिया। शबीना का शव पंखे में साड़ी के सहारे लटका हुआ था। आदित्य ने शबीना के शव को नीचे उतारा और मामले की जानकारी तालकटोरा पुलिस को दी। पुलिस ने विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम के साथ मौके का निरीक्षण किया।


गोरखपुर की रहने वाली थी शबीना


शबीना गोरखपुर की रहने वाली थी। आठ वर्ष की उम्र में कृष्णानगर कनौसी निवासी सफात अली ने शबीना को गोद ले लिया था। शबीना के पिता सफातअली ने आदित्य व उसकी पहली पत्नी शिवानी और पिता राम बिहारी मां बुद्धेश्वरी के खिलाफ दहेज हत्या का आरोप लगाकर मामला दर्ज कराया है।