नेपाल में मिले तबलीगी जमाती के 3 कोरोना पॉजिटिव, जालिम मुखिया गिरफ्तार


नई दिल्ली। नेपाल में 24 तबलीगी जमातियों को छिपाने के मामले में जालिम मुखिया को नेपाली पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है। जांच में तीन जमातियों में कोरोना संक्रमण मिलने से नेपाल में हड़कंप की स्थिति है। नेपाली मीडिया के अनुसार एक अप्रैल को रक्सौल बार्डर पर भारतीय सुरक्षा कर्मियों ने जमातियों को रोकने का प्रयास किया था, किन्तु सभी जमाती जबरन नेपाल की सीमा में प्रवेश कर गए थे।


ये सभी जमाती पाकिस्तान, इंडोनेशिया व भारत के हैं। नेपाली जिला पर्सा की गांव सभा जगरनाथपुर के प्रधान जालिम मुखिया को नेपाल पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है।


दिल्ली के तबलीगी जमात में शामिल होकर लौटे जालिम मुखिया ने भारतीय व विदेशी सहित 24 तबलीगी जमातियों को छपकैया वार्ड नंबर 2 की मस्जिद व यतीमखाना की मस्जिद में रखा था। सूचना मिलते ही नेपाली पुलिस ने इनकी जांच की। जिसमें 3 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमितों को नारायणी अस्पताल वीरगंज के आइसोलेशन में रखा गया है।


यातीमखाना संचालन कमेटी के अली असगर मदनी उर्फ कालानाग व जगरनाथपुर गांव सभा के प्रधान जालिम मुखिया ने सभी जमातियों के रहने व खाने का बंदोबस्त किया था। जमातियों ने अस्पताल में कर्मचारियों व पुलिस से दुर्व्यवहार भी किया। 21 लोगों को स्थानीय सिद्धार्थ स्कूल में क्वारंटाइन किया गया है।