न कोरोना का खौफ, न पुलिस का डर, लॉकडाउन की ऐसे धज्जियां उड़ा रहे हैं लोग


नई दिल्ली। खतरनाक कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से बचाने के लिए मोदी सरकार ने देश में लॉकडाउन का ऐलान किया, मगर कुछ लोग हैं कि इसे गंभीरता से लेने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। बीते दिनों केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में देशव्यापी लॉकडाउन लगाया और देशवासियों से सोशल डिस्टेंसिंग कामय करने की अपील की गई। मगर इस बीच देश के अलग-अलग हिस्सों से ऐसी तस्वीरें देखने को मिल रही हैं कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे हैं और भीड़ इकट्ठा कर रहे हैं। ताजा मामला कर्नाटक का है, जहां राज्य में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 100 पार कर चुकी है। 


दरअसल, कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच कलबुर्गी के सब्जी मार्केट में खरीदारी के लिए लोग इतनी बड़ी संख्या में एक साथ उमड़ पड़े कि इन सबने सोशल डिस्टेंसिंग मानदंडों की धज्जियां उड़ा दी। तस्वीर देखने से कहीं से भी नहीं लग रहा है कि यह लॉकडाउन के दौरान की तस्वीर है। लोग ऐसे बाजार में दिख रहे हैं जैसे आम दिनों में खरीदारी करने को उमड़ते हों। 


तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि मार्केट में कितनी भीड़ जुटी हुई है। लोग एक-दूसरे के काफी करीब-करीब खड़े हैं। बंद के बाद भी गाड़ियों की आवाजाही देखने को मिल रही है। हालांकि, सरकार ने राशन-पानी और सब्जियों की खरीदारी में थोड़ी छूट दी है, मगर फिर भी उसमें भी सोशल डिस्टेंस के नॉर्म को पालन करने को कहा गया है। मगर यहां नजारा इसके ठीक उलट है। 


खतरनाक कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में चालीस हजार से अधिक लोगों की जान ले चुका है, फिर भी लोग इसकी भयावहता को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। अकेले कर्नाटक में इस वायरस के मरीजों की संख्या 103 हो चुकी है और अब तक तीन मौतों का गवाह बन चुका है यह राज्य।