क्वारंटाइन में रखे गए जमातियों पर महिला नर्सों के साथ अश्लील हरकतें करने का आरोप


नई दिल्ली। दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज से निकले तबलीगी जमात के लोग देश के कई हिस्सों में कोरोना संक्रमण के प्रसार के लिए जहां जिम्मेदार माने जा रहे हैं, वहीं मेडिकल स्टाफ के साथ इन लोगों की बदसलूकी के कई मामले भी आ रहे हैं। गाजियाबाद के एमजीएम अस्पताल में क्वारंटाइन में रखे गए 13 जमातियों पर  महिला मेडिकल स्टाफ के साथ अश्लील हरकतें करने के आरोप लगे हैं। यह भी आरोप है कि वे बिना पैंट के घूम रहे हैँ, जिससे नर्सों और अन्य लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमओ) ने पुलिस से इस बारे में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।


बता दें कि इंदौर में भी जमातियों को संरक्षण देने वालों ने मेडिकल स्टाफ पर हमला कर दिया था। दिल्ली में क्वारंटाइन में रखे गए जमात के लोगों पर डॉक्टरों पर थूकने की बात सामने आई थी।ताजा मामला गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल में भर्ती जमातियों का है। अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने पुलिस को दिए तहरीर में आरोप लगाया है कि जमाती वार्ड के अंदर अश्लील गाने सुनते हैं । बिना पैंट के घूमते हैं और महिला कर्मचारियों से बीड़ी-सिगरेट तक मांगते हैं।  नर्स व अन्य महिला मेडिकल स्टाफ को देखकर फब्तियां भी कसते हैं। उन्होंने अपनी शिकायत में बताया है कि ऐसे हालात में इनका इलाज करना संभव नहीं है। 


इस वार्ड में कुल 32 कोरोना संभावित मरीजों को रखा गया है। इनमें 13 लोग मरकज से निकले हैं और इन्हें अस्पताल में क्वारंटाइन किया गया है। अब मुख्य चिकित्सा अधीक्षक की शिकायत पर नगर कोतवाली थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस अधीक्षक (नगर) डॉ. मनीष मिश्रा ने तहरीर मिलने की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि इस संबंध में थाना प्रभारी जांच कर रहे हैं और  जल्द ही विधिक कार्रवाई की जाएगी।