कोरोना संकट के बीच क्या बाहर से खाना ऑर्डर करना सुरक्षित है?

भले ही रेस्टॉरेंट कोरोना वायरस के दौरान सुरक्षा और सावधानी बरतने का वादा कर रही हों लेकिन फिर भी लोगों का चिंता करना ग़लत नहीं है।



हाल ही में ख़बर आई थी कि दिल्ली में 19 साल का पिज़्ज़ा डिलिवरी बॉय कोरोना वायरस पॉज़ीटिव पाया गया। जिसके बाद से दक्षिण दिल्ली के 72 परिवार, जिन्होंने इस डिलिवरी बॉय से पैकेट लिया था, उन्हें अपने आपको आइसोलेशन में रखने के लिए कहा गया है। 


भले ही रेस्टॉरेंट और खाना डिलिवर करने वाली कंपनियां, कोरोना वायरस के दौरान सुरक्षा और सावधानी बरतने का वादा कर रही हों, लेकिन फिर भी लोगों का चिंतित होना स्वाभाविक है। किसी भी तरह के संपर्क या स्पर्श से कीटाणु का संचरण हो सकता है, यहां तक कि आपको संक्रमित भी कर सकता है। कई रेस्टॉरेंट्स ने संपर्क रहित डिलिवरी भी शुरू की है ताकि सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।


क्या बाहर से खाना ऑर्डर करना या लाना सुक्षित है? 


फूड डिलिवरी के साथ हमेशा एक बड़ा जोखिम जुड़ा होता है, ऐसा सिर्फ कोरोना वायरस के संकट के समय ही नहीं है बल्कि आम दिनों में भी रिस्क होता है। लोग हमेशा से खाना बाहर से ऑर्डर करने को लेकर असमंजस में रहते हैं।


इसके लिए सबसे पहले ये समझना ज़रूरी है कि कोरोना वायरस खाने से नहीं फैलता है। ये एक सांस से जुड़ा वायरस है, जो एक इंसान से दूसरे में फैलता है। लोगों को कोरोना वायरस तब होता है जब वह किसी संक्रमित सतह, जगह या इंसान के संपर्क में आते हैं।


हालांकि, प्रमुख स्वास्थ्य निकायों ने सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं, जिसके तहत भोजन तैयार करते समय और कंटेनर या पैकेज के ज़रिए वायरस का किसी अन्य को संक्रमित करने का जोखिम बहुत कम होता है। हालांकि, संदूषण और वायरस के संचरण का जोखिम उस व्यक्ति से हो सकता है जो आप तक डिलीवरी पहुंचा रहा है। 


इसके बावजूद बाहर से खाना ऑर्डर करने से ज़रूरी नहीं है कि आप कोरोना वायरस से संक्रमित हो। क्योंकि सावधानी और सैनिटाइज़ेशन से ही कोरोना वायरस के खतरे को दूर रखा जा सकता है, इसलिए बाहर से खाना ऑर्डर करते समय इन बातों का ख्याल रखें:


- जो व्यक्ति आपको खाना या पैकेट पहुंचाने आए, उससे सीधे सामान न लें बल्कि थोड़ी दूरी पर रखने के लिए कहें। संपर्क रहित डिलिवरी यह सुनिश्चित करेगी कि आपके हाथ कीटाणु वाले सतहों के संपर्क में नहीं आएंगे।


- सामान लेने के लिए घर से बाहर जाते वक्त या वापस आने पर हाथों को कम से कम 20 सेकेंड के लिए साबुन और पानी से धोएं या अच्छे से सैनिटाइज़ करें। 


- पैकेट को अच्छी तरह से अल्होकल वाइप या फिर सैनिटाइज़र से अच्छी तरह साफ कर लें। 


- पैकेट से खाने को निकालकर फौरन अपने घर के साफ बर्तन में रखें। इससे पैकेट के कीटाणुओं से आप दूर रहेंगे। 


- अगर आप किसी मार्केट में जा रहे हैं या खाना पैक करवा रहे हैं, तो ध्यान रखें कि आप सभी से सामाजिक दूरी बनाए रखें। मास्क पहने ताकि इंफेक्शन आपकी सांस के ज़रिए शरीर में न पहुंचे। 


- जब तक ज़रूरी न हो, किसी भी तरह की सतहों को छूने से बचें। 


- अपने चेहरे और मुंह को न छुएं, जिससे इंफेक्शन आसानी से आपके शरीर में प्रवेश कर सकता है। 


इन सावधानियों के अलावा ऐेसे समय में आपको अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जितना हो सके विटामिन-सी से भरपूर चीज़ें खानी चाहिए। पोषण से भरपूर खाना खाएं ताकि आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ावा मिले।