कानपुर पूरी तरह लॉकडाउन, सड़क पर घूम रहे लोगों पर पुलिस ने बरसाई लाठियां


कानपुर। कानपुर में कोरोना के पॉजिटिव मरिजों के मामले बढ़ने के बाद प्रशासन सख्त हो गया है। कानपुर शहर और घाटमपुर तहसील क्षेत्र को पूरी तरह से लॉकडाउन घोषित किया है। सुबह 4 बजे से 11 बजे तक मिलने वाली छूट भी प्रशासन ने खत्म कर दी है। इसके बावजूद कई लोगों ने लॉकडाउन का उल्लंघन कर सड़कों पर उतरे जिसके बाद पुलिसवालों ने उन पर लाठियां चलाई।


डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने मंगलवार से पूरी तरह लॉकडाउन करने का फैसला लिया है। मतलब, सुबह चार से 11 बजे तक सब्जी, फल, दूध या अन्य जरूरी खाद्य सामग्री खरीदने के लिए मिलने वाली छूट को खत्म कर दिया है। अब सामान्य रूप से कोई भी व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकल सकेगा।


नहीं निकल सकेंगे घर से बाहर
सब्जी-फल, दूध या ब्रेड खरीदने के लिए भी घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। होम डिलीवरी के जरिए ही जरूरी सामग्री की आपूर्ति की जाएगी। सब्जी, फल, दूध व ब्रेड भी डोर-टू-डोर मिलेगा। बिना पास सड़क पर घूमते मिले तो कठोर कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन ने कोरोना के प्रकोप को फैलने से बचाने के लिए यह कदम उठाया है।


सब्जी और दूध वालों को पास की जरूरत नहीं
घर-घर जाकर ठेले पर सब्जी-फल बेचने वाले या साइकिल पर दूध ले जाने वाले को पास की जरूरत नहीं होगी। इसके अलावा किसी भी मालवाहक वाहन के लिए भी पास की जरूरत नहीं है। नर्वल व बिल्हौर में पूर्व की भांति लॉकडाउन का पालन होगा। मीडिया कवरेज एवं अखबार वितरण को पाबंदी से छूट रहेगी।