देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1211 नए मामले आए सामने, 31 लोगों की मौत


नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में दिन पर दिन वृद्धि देखने को मिल रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में देश में कोविड-19 के 1211 नए मामले सामने आए। इसके अलावा 31 लोगों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित 1036 लोग ठीक हो चुके हैं। कल एक ही दिन में 179 लोग ठीक हुए। अब तक 10363 केस सामने आए हैं। कल एक दिन में 1011 लोग पॉजिटिव पाए गए। वहीं देश में कोरोना वायरस से मरने वोलों की संख्या अब 339 पहुंच गई है।


आईसीएमआर ने कहा कि देशभर में कोरोना वायरस के अब तक 2 लाख 31 हजार टेस्ट किए गए हैं। कल 21,635 सैंपल टेस्ट किए गए हैं। कल तक 2 लाख 31हजार 903 लोगों की जांच की जा चुकी थी। सरकार ने कहा है कि 13 अप्रैल तक 32 करोड़ से ज्यादा गरीबों को 29,352 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई गई है। वित्त मंत्रालय ने कहा कि समाज के गरीब लोगों को मूलभूत सुविधाएं मिलती रहें इसके लिए वित्त मंत्री ने राहत पैकेज का ऐलान किया था। अब तक 32 करोड़ लाभार्थियों को 29352 करोड़ की आर्थिक सहायता दी गई है।


बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस को लेकर मंगलवार को राष्ट्र को संबोधित किए। देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में सरकार की मदद के लिए आने वाले दिनों में लोगों से सात बातों पर समर्थन मांगा ताकि इस महामारी को परास्त किया जा सके। प्रधानमंत्री ने लोगों से 'सप्तपदी मार्ग का पालन करने की अपील की जिसमें बुजुर्गो का ध्यान रखने, सामाजिक दूरी का पालन करने, गरीबों के प्रति संवेदनशीलता का परिचय देने, बाहर निकलते समय अपना चेहरा कपड़े से ढकना आदि शामिल है। राष्ट्र के नाम संबोधन में मोदी ने कहा, ''हम धैर्य बनाकर रखेंगे, नियमों का पालन करेंगे तो कोरोना जैसी महामारी को भी परास्त कर पाएंगे। इसी विश्वास के साथ मैं आज 7 बातों में आपका साथ मांग रहा हूं ।


उन्होंने मंगलवार को देशव्यापी लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की घोषणा की ताकि महामारी से मुकाबला किया जा सके। उन्होंने कहा कि संक्रमण को रोकने में लॉकडाउन के अच्छे परिणाम सामने आए हैं। पीएम मोदी ने सात बातों के तहत कहा कि पहली बात यह है कि अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें । विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, हमें उनका ज्यादा ध्यान रखना है, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है।


उन्होंने कहा कि दूसरी बात यह है कि लॉकडाउन और सामाजिक दूरी की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें, घर में बने चेहरा ढकने के मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें प्रधानमंत्री ने लोगों से अपनी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए, आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करने तथा गर्म पानी, काढ़ा आदि का निरंतर सेवन का सुझाव दिया । उन्होंने लोगों से आरोग्य सेतु मोबाइल एप जरूर डाउनलोड करने और दूसरों को भी इसके लिये प्रेरित करने को कहा।