यूपी में चार और मरीज मिले कोरोना पाॅजिटिव, कुल संख्या 42 तक पहुंची


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के चार नये मामले सामने आने के साथ ही इसके मरीजों की संख्या बढ़कर 42 हो गयी है। उनमें से 11 पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। सूचना विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश अवस्थी ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया कि कोरोना संक्रमण के चार नये मामले सामने आने के साथ ही अब तक राज्य में कोविड-19 विषाणु से संक्रमित लोगों की संख्या 42 हो गयी है। गुरुवार को मिले चार नए मामलों में तीन नोएौर एक बागपत का है। कोरोना से अब तक नोएडा में 14, आगरा और लखनऊ में आठ-आठ, गाजियाबाद में तीन, पीलीभीत में दो, बागपत, लखीमपुर खीरी, मुरादाबाद, वाराणसी, कानपुर, जौनपुर और शामली में एक-एक व्यक्ति  संक्रमित हो चुका है। 
अवस्थी ने संक्रमित लोगों  में 11 लोगों के पूरी तरह स्वस्थ होने का जिक्र करते हुए बताया कि उनमें आगरा के सात, गाजियाबाद के दो तथा लखनऊ और नोएडा का एक-एक व्यक्ति शामिल हैं। बाकी 31 का इलाज विभिन्न अस्पतालों में किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राज्य में अब तक कोरोना की आठ टेस्टिंग लैब शुरू हो चुकी हैं। करीब 50 हजार लोग जहां-जहां रेफर किये गये थे, वे सामान्य हो चुके हैं। लगभग 30 हजार लोग निगरानी में हैं। उन पर भी पैनी नजर रखी जा रही है।


88 लोगों को सीएम योगी ने घर पहुंचवाया
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दूसरे राज्यों से आ रहे ग्रामीणों मजदूरों की मदद के लिए मध्य प्रदेश, हरियाणा, बिहार और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों से बात की। उनकी पहल पर ही मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ में फंसे यूपी के 88 लोगों को तुरंत राहत दी गई। सीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि ऐसे लोगों की मानवीय आधार पर मदद कर उनके स्वास्थ्य की चेकिंग कर घर भेजा जाए।
मुख्यमंत्री कार्यालय को सूचना मिली थी कि मुंबई से यूपी आ रही 80 लोगों से भरी बस को मध्य प्रदेश में टीकमगढ़ में रोक लिया गया है। इसमें एक गर्भवती महिला भी है और बुजुर्ग भी। यह जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री ने मातहत अधिकारियों को निर्देश दिए और उन्हें तुरंत राहत देते हुए गंतव्य के लिए रवाना किया गया। उनके स्वास्थ्य की जांच भी की गई। राहत पाए लोगों ने मुख्यमंत्री का साधुवाद किया है।
इससे पहले झांसी पहुंची ट्रेन से यात्रियों को उतार कर उनके स्वास्थ्य की चेकिंग की गई। वहीं प्रदेश सरकार के निर्देश पर उनके खाने का इंतजाम किया गया। वहीं मुख्यमंत्री ने हरियाणा के मुख्यमंत्री को फोन कर यूपी के लोगों को रहने के लिए स्थान देने और भोजन की व्यवस्था कराने को कहा गया। वहीं बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से बात कर यूपी के लोगों के लिए भोजन व रहने की व्यवस्था कराई गई।