उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस आपदा घोषित, राज्यपाल ने दी मंजूरी


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस को आपदा घोषित कर दिया गया है। मंगलवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कोरोना को राज्य में आपदा घोषित करने की स्वीकृति दे दी। इसी के बाद राज्य सरकार ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया। विश्व स्वास्थ्य संगठन कोरोना को पहले ही महामारी घोषित कर चुका है। वहीं देश में करेल और ओडिशा के बाद उत्तर प्रदेश ने इसे आपदा घोषित किया है।


अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि भारत सरकार के आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 की धारा-2 की उप धारा (डी) और उत्तर प्रदेश आपदा प्रबंध अधिनियम -2005 की धारा-2 की उप धारा (जी) में किए गए प्रावधन के क्रम में कोरोना वायरस के कारण फैल रही महामारी को आपदा घोषित किए जाने की राज्यपाल ने स्वीकृति दे दी है।


इससे पहले भी प्रदेश सरकार इस महामारी से निपटने के लिए कई कदम उठा चुकी है। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राज्य को लॉकडाउन कर दिया गया है। वहीं लोगों से इसमें सहभागिता के लिए अपील की जा रही है। उत्तर प्रदेश में अबतक कोरोना के कुल 37 मामले सामने आए हैं। इसमें से नौ लोग ठीक हो कर घर लौट चुके हैं।


भारत में भी इस वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को भारत में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केसों की संख्या में इजाफा हुआ है और आंकड़ा 519 हो गया है। यह आंकड़ा स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार शाम में जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोना के पॉजिटिव केसों की संख्या 519 हो गई है, जिनमें से 39 को डिस्चार्ज कर दिया गया है और नौ लोगों की मौत हो चुकी है।