कोरोना नाम का गांव इन दिनों झेल रहा मुश्किलें, लोग कर रहे भेदभाव का सामना


सीतापुर। कोरोना वायरस के कारण देश ही नहीं, दुनिया भर में दहशत का माहौल है। महामारी का रूप ले चुके इस वायरस से उत्तर प्रदेश का एक गांव बेहद परेशान है। हालांकि गांव का इस वायरस से कोई लेना देना नहीं है। फिर भी यहां के लोग मुश्किलों में हैं और भेदभाव का सामना कर रहे हैं।


दरअसल, यूपी के सीतापुर जिले में एक गांव है, जिसका नाम ही कोरोना है। अपने नाम के कारण इस गांव के लोगों को तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। गांव वाले बताते हैं कि जब से यह बीमारी फैली है, तब से ही हमें भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है।


गांव के एक निवासी राजन कहते हैं, 'जब हम किसी से कहते हैं कि हम कोरोना से हैं, तब वे हमसे दूरी बनाने लगते हैं। वे यह नहीं समझते हैं कि कोरोना हमारा गांव है, कोई ऐसा व्यक्ति नहीं जो कोरोना से संक्रमित है।'


उत्तर प्रदेश में कोरोना के अबतक 66 मामले


उत्तर प्रदेश में कोरोना के 66 मामले सामने आए हैं। इसमें 54 भारतीय और एक विदेशी व्यक्ति शामिल है। वहीं 11 लोग ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज भी हुए हैं। सबसे ज्यादा संक्रमित मामले नोएडा से आए हैं।