घर पर बनाएं मसाला चाय, इम्यूनिटी के साथ वज़न भी होगा कम

हमारे देश में ज़्यादातर लोगों की सुबह चाय से होती है। ऐसे में अगर आप घरों में लॉकडाउन हैं और अपनी इम्युनिटी को बेहतर करना चाहते हैं तो मसाला चाय ज़रूर पिएं।



कोरोना वायरस से देश भर में गहरा असर पड़ा है। लोग अपने घरों में लॉकडाउन है। कई जगहों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है ताकि स्थिति को नियंत्रण में लाया जा सके। वहीं, डॉक्टर्स कोरोना वायरस से बचने के लिए इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग रखने की सलाह दे रहे हैं। हालांकि, ताज़े फल और हरी सब्ज़ियों के सेवन से आप अपने इम्यून सिस्टम को मज़बूत कर सकते हैं। इसके अलावा चाय से भी आप अपनी इम्युनिटी को बेहतर कर सकते हैं।


जैसा कि हम जानते हैं कि हमारे देश के हर एक घर में सुबह की शुरुआत चाय से होती है। इसमें नींबू और दूध वाली चाय का ज्यादा उपयोग किया जाता है। ऐसे में अगर आप घरों में लॉकडाउन हैं और अपनी इम्युनिटी को बेहतर करना चाहते हैं तो मसाले वाली चाय ज़रूर पीएं। यह न केवल आपकी इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग करता है बल्कि आपके बढ़ते वज़न को भी कम करने में मददगार है। इसके लिए आपको रोज़ाना 2-3 बार मसाले वाली चाय का सेवन करना चाहिए। आइए जानते हैं कि इस चाय को कैसे बनाया जाता है और इसके क्या-क्या फायदे हैं। 


मसाले वाली चाय बनाने के लिए आपको 


4-5 हरी इलायची, 


4-5 चम्मच लौंग,   


2 चम्मच काली मिर्च, 


2-3 दाल चीनी स्टिक्स 


एक चौथाई चम्मच सूखा अदरक पाउडर  


कैसे बनाएं मसाला चाय  


इसके लिए सभी मसालों को 15-20 मिनट तक धूप में सूखा लें। इसके बाद ग्राइंडर में सभी मसालों को अच्छी तरह पीस लें। जब यह ठंडा हो जाए तो इसे एक जार में रख लें। अब जब आप चाय बनाएं तो एक चुटकी चाय मसाला उसमें जरूर डालें। एक चीज़ का ध्यान रखें कि दूध वाली चाय में इसका इस्तेमाल बिल्कुल न करें। 


मसाला चाय के फायदे 


आयुर्वेद अनुसार, भारतीय मसालों में अलग तरह का जादू है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और  एंटी-वायरल गुण पाए जाते हैं। इसके साथ ही भारतीय मसालों में एंटीऑक्सीडेंट के गुण भी पाए जाते हैं। 


सूखा अदरक पाउडर (सॉन्ठ)


इसमें एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो बदलते मौसम में भी आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करते हैं। यह आपकी बॉडी को वायरल इंफेक्शन से दूर रखते हैं। यह न सिर्फ डायजेशन को मज़बूत करते हैं बल्कि मेटाबॉलिज्म (चयापचय) भी बढ़ाते हैं जो वज़न घटाने में मददगार साबित होते हैं।  


काली मिर्च के फायदे 


कई रिसर्चों में यह दावा किया गया है कि काली मिर्च इम्युनिटी को बढ़ाने में बहुत ही लाभदायक होती है। इसमें न सिर्फ एंटी-इंफ्लामेट्री के गुण पाए जाते हैं बल्कि एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी-बैक्टीरियल की मात्रा भी भरपूर होती है, जो वायरल संक्रमण को रोकता है। साथ ही आपकी इम्यून सिस्टम को भी मज़बूत करता है।


दाल चीनी के फायदे 


इसमें एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो फ्लू के सभी लक्षणों को दूर करते हैं। यह न केवल आपकी इम्यून सिस्टम को मज़बूत करते हैं बल्कि यह कैंसर जैसे घातक रोग में भी फायदेमंद हैं। कई रिसर्चों में बताया गया है कि इससे वज़न कम होता है क्योंकि दाल चीनी शुगर लेवल को कम करने में भी सहायक होती है। 


इलायची के फायदे 


इसमें एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो बॉडी सेल्स को सुरक्षा प्रदान करते हैं और सूजन संबंधी समस्या को दूर करते हैं। यह सांस लेने की प्रक्रिया को भी सुचारु रूप से चलाते हैं। यह बॉडी मेटाबॉलिज़्म को भी बढ़ाते हैं जो वज़न घटाने में सहायक है।  


लौंग के फायदे 


इसमें युजिनॉल की अधिकता होती है और इसमें एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी-वायरल गुण पाए जाते हैं जो इंफेक्शन और इन्फ्लेमेशन के खिलाफ लड़ते हैं। इसके साथ ही लौंग में एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं जो इम्यून को बेहतर बनाते हैं।